क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर रंजन गोगोई नाम के ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर किया जा रहा है । ट्वीट में लिखा है - अगर, बच्चा पैदा करना व्यक्तिगत अधिकार है, अगर इस पर रोक नहीं लगाई जा सकती, तो फिर उनके भूखे रहने पर सरकार जिम्मेदार कैसे है ?

और सच क्या है ?

  • रंजन गोगोई का बताकर वायरल हो रहे बयान को सर्च करने पर पता चला कि ये मैसेज सोशल मीडिया पर कई यूजर शेयर कर रहे हैं।
  • जिस ट्विटर हैंडल का ट्वीट वायरल हो रहा है। उस पर ब्लू टिक नहीं है। इसी से स्पष्ट हो रहा है ये पूर्व चीफ जस्टिस का ऑफिशियल ट्विटर हैंडल नहीं है।
  • ट्विटर सर्च करने पर हमें पता चला कि रंजन गोगोई का ट्विटर पर कोई अकाउंट ही नहीं है। न्यूज एजेंसी या नामचीन हस्तियों द्वारा कई बार रंजन गोगोई से संबंधित ट्वीट किए गए। इसमें किसी भी ट्विटर हैंडल को टैग नहीं किया गया है।
  • अलग-अलग कीवर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि पूर्व चीफ जस्टिस ने जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कोई बयान दिया है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Fact check: Former Chief Justice Gogoi said - It is not the government's responsibility to starve children, but those who produce them, know the truth of this statement going viral


from Dainik Bhaskar /no-fake-news/news/fact-check-former-chief-justice-gogoi-said-it-is-not-the-governments-responsibility-to-starve-children-but-those-who-produce-them-know-the-truth-of-this-statement-going-viral-127739721.html
https://ift.tt/3hWbxw5
Previous Post Next Post