(प्रतीक भट्‌ट) गुजरात यूनिवर्सिटी स्टार्टअप एंड आंत्रप्रेन्याेरशिप काउंसिल (जीयूएसईसी) ने एल्टीट्यूड हेबिटैट का सैंपल हाउस तैयार किया है। खासबात ये है कि ये 15,500 फीट की ऊंचाई पर -30 डिग्री सेल्सियस तापमान में प्रभावी सुरक्षा कवच देने में सक्षम है। 6 फीट तक बर्फ गिरने पर भी ये टेंट जवानों को सुरक्षित रखेगा।

इसमें रेग्युलर डोर, इमरजेंसी डोर, स्टोर रूम, बाथरूम, सैनिटाइजर सहित सुविधाएं हैं। सैंपल हाउस को लेह में इंस्टाल किया गया है। इसमें 20 से 30 जवान रह सकते हैं। आठ लोग इसे 1.50 मिनट मतलब करीब दो घंटे में इंस्टाल कर सकते हैं।

आइसोलेशन के लिए भी यूज कर सकते हैं

टेंट इंस्टाल करने के लिए 6 नट, हेमर, रबर, एल्यूमीनियम सीडी सहित कुछ उपकरणों की जरूरत होती है। भूकंप-अतिवृष्टि और कोरोना संकट जैसे हालात में आइसोलेशन के लिए इसे प्रयोग में लिया जा सकता है।भारतीय सेना के मेजर जनरल एके चाचन ने जवानों के लिए तैयार किए गए इस विशेष टेंट पर संतोष जताया है।

उन्होंने कहा कि हम भविष्य में भी इस तरह के रिसर्च के लिए यूनिवर्सिटी के साथ जुड़े हुए हैं। इधर, गुजरात यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. हिमांशु पंड्या ने बताया कि भारतीय सेना के साथ कई तरह की रिसर्च और इनोवेशन चल रहे हैं। सेना ने इस प्रोडक्ट को मान्यता दी है। यह विद्यार्थियों-प्रोफेसर के लिए उत्साहवर्धक है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
गुजरात यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. हिमांशु पंड्या ने बताया कि भारतीय सेना के साथ कई तरह की रिसर्च और इनोवेशन चल रहे हैं। (फाइल फोटो)


from Dainik Bhaskar /national/news/this-tent-will-protect-the-seals-at-a-temperature-of-15500-feet-in-minus-30-degrees-127848126.html
https://ift.tt/3mciuMi
Previous Post Next Post