भारतीय सेना ने 2 दिन पहले लद्दाख में जिस चीनी सैनिक को पकड़ा था, उसे मंगलवार रात चुशूल-मोल्डो मीटिंग पॉइंट पर लौटा दिया। ये सैनिक सोमवार को भटककर लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पारकर लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में आ गया था। सेना ने उसी दिन कहा था कि तय प्रॉसिजर पूरा करने के बाद प्रोटोकॉल के मुताबिक चीन के सैनिक को लौटा दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चाइनीज सैनिक को लौटाने से पहले चीन के मामलों ने जुड़े एक्सपर्ट्स ने उससे पूछताछ की। वहीं आर्मी ने बताया था कि चीन के सैनिक को मेडिकल हेल्प, खाना और गरम कपड़े दिए गए, ताकि उसे कोई दिक्कत नहीं हो।

लद्दाख में भारतीय सेना की सर्दियों में भी डटे रहने की तैयारी
भारत-चीन के बीच लगातार तनाव के बीच सेना ने सर्दियों में लद्दाख के इलाकों में डटे रहने की तैयारियां कर ली हैं। भारत ने ऊंचाई वाले इलाकों लिए वॉरफेयर किट और विंटर क्लोथ अमेरिका से खरीदे हैं।

भारतीय सैनिकों का लद्दाख के पैंगॉन्ग लेक के दक्षिण में 13 अहम चोटियों पर कब्जा है, जहां वे माइनस 25 डिग्री सेल्सियस टेम्परेचर में पूरी मुस्तैदी के साथ डटे हुए हैं। सीमा विवाद हल करने के लिए चुशुल में 12 अक्टूबर को कोर कमांडर स्तर की मीटिंग करीब 11 घंटे चली, लेकिन पहले की बैठकों की तरह इसमें भी कोई पुख्ता रास्ता नहीं निकल पाया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
लद्दाख में भारत और चीन के बीच करीब 5 महीने से विवाद जारी है। 15 जून को गलवान में हुई झड़प के बाद तनाव और ज्यादा बढ़ गया।- फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar /national/news/indian-army-handed-over-the-chinese-soldier-corporal-wang-ya-long-to-the-chinese-army-at-the-chushul-moldo-meeting-point-127835126.html
https://ift.tt/37uD3zl
Previous Post Next Post