क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रेसिडेंशियल डिबेट में भारत को ‘गंदा’ कहा।

23 अक्टूबर को रिपब्लिकन पार्टी के डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेट जो बाइडेन के बीच अंतिम प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई थी। इसी डिबेट का 3 सेकंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें ट्रंप कहते दिख रहे हैं - India is Filthy।

कांग्रेस के नेशनल कॉर्डिनेटर गौरव पांधी ने ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए दावा किया कि ट्रंप ने भारत को गंदा कहा।

और सच क्या है ?

  • वीडियो देखने से स्पष्ट हो रहा है कि ट्रंप की स्पीच में से एक वाक्य से बीच का हिस्सा एडिट कर वायरल किया गया है। अलग-अलग की वर्ड के जरिए हमने इंटरनेट पर इसी प्रेसिडेंशियल डिबेट से जुड़े वीडियो सर्च करने शुरू किए। न्यूज एजेंसी ANI के यूट्यूब चैनल पर हमें 1 मिनट 42 सेकंड का वीडियो मिला। जिसमें ट्रंप द्वारा भारत के बारे में कही गई पूरी बात सुनी जा सकती है।

  • डोनाल्ड ट्रंप वीडियो में क्लाइमेट चेंज की दिशा में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिना रहे हैं। वे कहते हैं - कार्बन एमिशन के मामले में हमारा प्रदर्शन पिछले 35 सालों की तुलना में सबसे ज्यादा बेहतर रहा। हम यही कर सकते हैं। इसके बाद ट्रंप वह वाक्य बोलते हैं, जिसके आधार पर ये दावा किया जा रहा है कि उन्होंने भारत को गंदा कहा।
  • ट्रंप ने कहा - Look at China, how filthy it is. look at Russia, look at, India, it’s so filthy, the air is filthy,”। इसका हिंदी अनुवाद होगा- चीन को देखो, कितनी गंदगी है। रूस को देखो, भारत को देखो, बहुत गंदगी है, वहां की हवा गंदी है, "। स्पष्ट हो रहा है कि ट्रंप ने भारत को गंदा नहीं कहा, बल्कि भारत की एयर क्वालिटी को गंदा कहा है।
  • Look at India, its filthy स्पीच के ये 5 शब्द बोलते हुए ट्रंप का 3 सेकंड का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया गया और दावा किया गया कि ट्रंप ने भारत को गंदा कहा है। जबकि Look at India, its filthy के बाद ट्रंप ने आगे the air is filthy भी कहा। यानी वे भारत की एयर क्वालिटी को खराब बता रहे थे, न कि देश को।
  • अब सवाल ये है कि अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप भारत की एयर क्वालिटी का जिक्र कर क्यों रहे थे? दरअसल, डिबेट के दौरान उनसे पेरिस समझौते से बाहर होने की वजह पूछी गई। इसके जवाब में उन्होंने पहले कार्बन एमिशन के मामले में अमेरिका कि उपलब्धियां गिनाईं। फिर चीन, रूस और भारत की एयर क्वालिटी की स्थिति को गंदा बताया ( जिससे साबित हो सके कि अमेरिका अन्य देशों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन कर रहा है)। फिर बोले कि "पेरिस समझौते से हम बाहर हो गए क्योंकि हमें खरबों डॉलर खर्च करने पड़ रहे थे, और हमारे साथ अनुचित व्यवहार किया जाता था। हमारा कारोबार छीना जाता। मैं ये सैक्रिफाइस नहीं कर सकता था।"


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Fact check: Donald Trump called India dirty in presidential debate? Claim found half-truth in investigation


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/31CkC8k
https://ift.tt/34vUb69
Previous Post Next Post