आईपीएल 2020 में सोमवार को सभी टीमों के 7-7 मैच पूरे हो गए। जिसके बाद मंगलवार से मिड सीजन ट्रांसफर विंडो ओपन हो गई है, जो 5 दिन तक रहेगी। इसमें फ्रेंचाइजी खिलाड़ियों को लोन पर दे सकती हैं। उन्हीं खिलाड़ियों का ट्रांसफर हो सकता है, जिन्होंने अभी तक दो या उससे कम मैच खेले हैं।

किस टीम की नजर किस खिलाड़ी पर
क्रिस लिन :
(मुंबई से राजस्थान) रोहित-डी कॉक की वजह से लिन को मौका नहीं मिला है। बटलर के साथी के रूप में राजस्थान उन्हें टीम से जोड़ना चाहेगी।
इमरान ताहिर : (चेन्नई से केकेआर) नरेन का एक्शन संदिग्ध पाए जाने के बाद कोलकाता ताहिर जैसे अनुभवी स्पिनर को टीम में शामिल कर सकती है।
मोइन अली : (बेंगलुरु से चेन्नई) चेन्नई के मध्यक्रम में विस्फोटक बल्लेबाज की कमी है। टीम मोइन अली को जोड़ना चाहेगी, जो बड़ा शॉट खेल सकते हैं।
कुल्टर नाइल : (मुंबई से पंजाब) पंजाब शमी का साथी गेंदबाज नहीं ढूंढ पाई है। कॉट्रेल बेअसर रहे हैं। टीम कुल्टर नाइल को अपने साथ जोड़ना चाहेगी।
मयंक मारकंडे : (राजस्थान से दिल्ली) अमित मिश्रा के चोटिल होने के बाद दिल्ली भारतीय लेग स्पिनर मयंक मारकंडे को शामिल करना चाहेगी।

कैप्ड खिलाड़ियों के ट्रांसफर की उम्मीद नहीं
मुंबई के 13, दिल्ली के 9, कोलकाता के 10, बेंगलुरू के 11, के 13, राजस्थान के 11, चेन्नई के 10 और पंजाब के 13 समेत कुल 90 खिलाड़ी ट्रांसफर के योग्य हैं। इसमें गेल, रहाणे, ताहिर, मोइन अली, लिन और स्टेन जैसे बड़े नाम शामिल हैं। हालांकि, पहले दिन किसी फ्रेंचाइजी ने ट्रांसफर के लिए अनुरोध नहीं किया। एक फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने कहा कि कैप्ड खिलाड़ियों के ट्रांसफर की उम्मीद नहीं के बराबर है। अधिकारी ने कहा, ‘लीग पूरी तरह खुली हुई है और कौन अपने बड़े खिलाड़ियों को देना चाहेगा? आप नीलामी में प्लानिंग के साथ जाते हैं। बिना बड़ी चोट या कैलकुलेशन के पूरी तरह गलत होने के बिना शायद की कोई अपने टॉप खिलाड़ियों को छोड़ेगा।’



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कोलकाता नाइट राइडर्स इमरान ताहिर जैसे अनुभवी स्पिनर को टीम में शामिल कर सकती है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3j03DlY
Previous Post Next Post