क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि भारत में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च हो गई है।

मैसेज के साथ एक ऐप की लिंक भी शेयर की जा रही है। दावा है कि इस लिंक पर क्लिक कर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद ही लोगों को वैक्सीन का लाभ मिलेगा।

और सच क्या है?

  • दावे की पुष्टि के लिए हमने इंटरनेट पर अलग-अलग मीडिया रिपोर्ट्स के जरिए वैक्सीन से जुड़े अपडेट खंगालने शुरू किए।
  • इस समय सबसे ज्यादा चर्चा में फाइजर वैक्सीन है। अमेरिकी फार्मा कंपनी फाइजर और जर्मन कंपनी बायोएनटेक की ये जॉइंट वैक्सीन फेज-3 ट्रायल में 95% असरदार साबित हुई है। वैक्सीन को हाई-रिस्क आबादी के लिए इस साल के आखिर तक अप्रूवल दिया जा सकता है।
  • दैनिक भास्कर की खबर के अनुसार, भारत में इस समय भारत बायोटेक के कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका की कोवीशील्ड वैक्सीन के फेज-3 ट्रायल्स चल रहे हैं। इसके नतीजे दिसंबर-जनवरी में आ सकते हैं।
  • सब कुछ प्लान के मुताबिक हुआ तो अगले साल की शुरुआत तक कोवैक्सीन और कोवीशील्ड अप्रूव हो जाएंगी। जायडस कैडिला की बनाई वैक्सीन को लेकर भी अब तक अच्छे शुरुआती नतीजे आए हैं। इसके भी फेज-3 ट्रायल्स शुरू होने वाले हैं।
  • ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट हमें इंटरनेट पर नहीं मिली, जिससे पुष्टि होती हो कि भारत में कोविड-19 की वैक्सीन लॉन्च हो गई है। जैसा कि वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है।
  • केंद्र सरकार ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पीआईबी फैक्ट चेक से ट्वीट कर बताया है कि वैक्सीन लॉन्च होने का दावा झूठा है।

ये भी पढ़ें...



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Coronavirus Vaccine Launch In India; Truth behind Fake News


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3pDYJj8
https://ift.tt/330mZ5c
Previous Post Next Post