Breaking News

ब्रेकिंग में प्रतिभागियों का होता है कोड नेम, वर्ल्ड कप में 36 देश हिस्सा लेते हैं; अंकित कुशवाहा भार के नंबर-2 खिलाड़ी

ब्रेकिंग अब सिर्फ एक डांस फॉर्म नहीं रहा। बल्कि एक स्पोर्ट्स बन गया है। इसे इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी (आईओसी) ने ओलिंपिक खेलों में बतौर स्पोर्ट्स शामिल कर लिया है। यह पहली बार 2024 में होने वाले पेरिस ओलिंपिक में खेला जाएगा। आइए जानते हैं क्या है ब्रेकिंग या ब्रेक डांसिंग और इसे कैसे खेलते हैं...?
ब्रेकिंग या ब्रेक डांसिंग क्या है?
यह हिप-हॉप डांस का हिस्सा है। ब्रेकिंग या ब्रेक डांसिंग के चार बेसिक एलिमेंट हैं। पहला-टॉप रॉक यानी सीधा खड़े रहकर स्टैप करना। दूसरा- डाउनरॉक यानी पैर व हाथ का प्रयोग करते हुए स्टैप करना। तीसरा- फ्रीजेज यानी डांस करते-करते किसी पोजिशन या स्टैप पर फ्रीज हो जाना। चौथा-पावर, जिसमें अलग-अलग मूव्स करने होते हैं जैसे- हेड स्पिन, हैंड स्पिन, विंड मिल आदि।

इसका टूर्नामेंट कैसे आयोजित होता है?
इसमें कॉम्पिटीशन नहीं बल्कि बैटल्स होते हैं। इसमें दो बी-बॉय या फिर बी गर्ल या फिर ग्रुप (क्रू) आमने-सामने होते हैं। एक छत के नीचे ब्रेकिंग से जुड़ी कम्यूनिटी एकत्रित होती है जिसमें जज, डीजे, पार्टिसिपेंट्स शामिल होते हैं।
इसके खिलाड़ियों को क्या कहते हैं?
हर बी-बॉय और बी-गर्ल्स का एक कोड नेम होता है। कम्यूनिटी में उसे असली नाम नहीं कोड नेम से जाना जाता है। अमेरिका में फ्री स्टाइल सेशन, सिल्वर ब्रेक ओपन और कोरिया में आर-16, बीबीआईसी जैसे कॉम्पिटीशन होते हैं।

सका सबसे बड़ा टूर्नामेंट कौन सा है?

ओलिंपिक में जुड़ने से पहले ‘रेड बुल बीसी वन वर्ल्ड फाइनल्स’ ब्रेकिंग का सबसे बड़ा कॉम्पिटीशन है। इसे इस खेल का वर्ल्ड कप कह सकते हैं। हर साल होने वाले इस टूर्नामेंट में 36 देश के नेशनल चैंपियन हिस्सा लेते हैं। हर देश के नेशनल कॉम्पिटीशन में अलग-अलग जोन के चैंपियन शामिल होते हैं। भारत को छह से सात जोन में बांटा गया है। इन जोन में देश के 16 शहर शामिल हैं।
विजेता कैसे घोषित किया जाता है?

फाइनल में रैंडम डीजे बीट्स पर परफॉर्म करना होता है। 5-7 सदस्यों का पैनल ध्यान रखता है कि कौन सा प्रतिभागी इन एलिमेंट में रिच है और कौन सा कमजोर। किसी प्रतिभागी के परफॉर्मेंस में तीन एलिमेंट स्ट्रांग हैं जबकि दूसरे में दो अच्छे हैं तो तीन वाला विजेता बनता है। इन एलिमेंट से जज करते हैं- फाउंडेशन: बेसिक टेक्नीक के साथ एडवांस मूव्स। एग्जीक्यूशन: मूव्स या स्टैप को कितने अच्छे से एग्जीक्यूट करते हैं। म्यूजिकेलिटी: रैंडम ट्रैक पर किसका डांस अच्छा है। डायनमिक्स: मूव्स का डिफिकल्टी लेवल क्या है। क्रिएटिविटी: परफॉर्मेंस में कितनी क्रिएटिविटी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ब्रेक डांस को 2024 पेरिस ओलिंपिक में शामिल किया गया है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3gURtvd