Breaking News

पश्चिमी विक्षोभ के कारण उत्तर भारत के कई इलाकों में बारिश के आसार; पटना में अभी कोहरे से राहत नहीं

मंगलवार से पश्चिमी विक्षोभ के चलते उत्तरी हवाएं मैदानी इलाकों की ओर आगे बढ़ेंगी। इससे इससे राजस्थान, मध्यप्रदेश और बिहार में शुक्रवार और शनिवार को बारिश के आसार हैं। राजस्थान में 15 दिसंबर के बाद से पारा 4 डिग्री तक गिरेगा। मध्यप्रदेश में अरब सागर से आ रही नमी के कारण भोपाल, इंदौर समेत कई इलाकों में बूंदाबांदी हो सकती है। बिहार में भी पश्चिमी विक्षोभ के कारण 15-16 को बारिश के आसार हैं। इससे ठंड सकती है। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार अभी कोहरे से राहत नहीं मिलती दिख रही है।
राजस्थान में नहीं लुढ़क रहा दिन-रात का पारा
दिसंबर के दस दिन गुजर गए लेकिन दिन-रात का पारा लुढ़कने का नाम ही नहीं ले रहा। ऐसे में कड़ाके की सर्दी तो दूर हल्की ठंड भी नहीं महसूस हो रही। इससे पहले मौसम विशेषज्ञों ने दावा किया था कि ला-नीना के प्रभाव के चलते इस बार जोरदार सर्दी पड़ेगी लेकिन एंटी साइक्लोन सिस्टम उत्तर से आने वाली ठंडी हवाओं को आगे बढ़ने से रोक रहा है। ऐसे में पश्चिमी विक्षोभ भी पूरी तरह सक्रिय नहीं हो पा रहे। मौसम वैज्ञानिक डीपी दुबे ने बताया कि अरब सागर से आने वाली हवाएं जिन्हें दक्षिणी हवाएं भी कहते है, इनका प्रभाव बना है। ऐसे में दिन का पारा सामान्य से अधिक है।
भोपाल, इंदौर में गुरुवार से ही बादल
अरब सागर से आ रही नमी के कारण गुरुवार सुबह से ही बादल छा गए थे। इसके कारण ज्यादा तीखी धूप नहीं चटक सकी। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक यह बादल 3000 मीटर ऊंचाई के थे। ये मीडियम क्लाउड कहलाते हैं। मौसम विज्ञान में इन बादलों को अल्टरो कुंबलस बादल कहा जाता है। शुक्रवार को भोपाल, इंदौर में बूंदाबांदी हो सकती है।
पंजाब में दो दिन बारिश के आसार, फिर शीतलहर
पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के चलते सूबे के कई जिलों में शुक्रवार और शनिवार को बारिश होने की संभावना है। आईएमडी के मुताबिक वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, होशियारपुर, नवांशहर में बारिश हो सकती है। 13 और 14 दिसंबर को घनी धुंध व शीत लहर की शुरूआत हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक पंजाब और हरियाणा में न्यूनतम पारा औसत से 5 पॉइंट्स तक ऊपर चल रहा है। सूबे का औसतन न्यूनतम तापमान 12 डिग्री तक रिकॉर्ड हुआ। बदलाव खाड़ी की हवाओं में नमी की वजह से है।
हरियाणा में भी हल्की बरसात की उम्मीद
पहाड़ों पर जारी बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों पर शनिवार से दिखने लगेगा। अगले दो दिन यानी 11 और 12 दिसंबर को प्रदेश के कई इलाकों में हल्की बरसात की उम्मीद है। बरसात के ठीक बाद पहाड़ों से ठंडक मैदानों की ओर तेजी से बढ़ेगी। 13 और 14 दिसंबर को कई इलाकों में गहरी से गहरी धुंध पड़ सकती है। जबकि 17 के बाद कड़ाके की ठंडक का दौर शुरू हो सकता है। इस अवधि में पारा तेजी से कम होने की उम्मीद बनेगी।
बिहार में पश्चिमी विक्षोभ के कारण 15-16 को बारिश के आसार, बढ़ेगी ठंड
बिहार में अभी कोहरे से राहत नहीं मिलने वाली। खासकर सुबह 10 बजे तक अधिकांश जिलों में घना कोहरा छाएगा। 15-16 दिसंबर को पश्चिमी विक्षोभ एक्टिव हो रहा है, जिसके कारण हल्की बारिश के आसार हैं। इसके बाद ही आसमान साफ होगा और रात के तापमान में कमी आएगी। इसके बाद ठंड में बढ़ोतरी होगी। मौसम विज्ञान केंद्र पटना की वैज्ञानिक आरती गुप्ता ने बताया कि गुरुवार को गया में दृश्यता 100 मीटर तक पहुंच गई। अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बीच अंतर में कमी बरकरार है, जिससे ठंड महसूस हो रही है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
इंदौरः नमी की वजह से गुरुवार सुबह से ही बादल छा गए थे। तस्वीर सुबह 7 बजे एयरपोर्ट रोड की है।


from Dainik Bhaskar /national/news/due-to-western-disturbances-rain-is-expected-in-many-areas-of-north-india-no-respite-from-fog-in-patna-128001671.html
https://ift.tt/3qLJ2qH