किसान आंदोलन के समर्थन में आज भारत बंद का भाजपा शासित 17 में से 15 राज्यों में ज्यादा असर दिखने के आसार नहीं हैं। हरियाणा और बिहार इससे अलग है। पंजाब के बाद हरियाणा में किसानों ने जमकर प्रदर्शन किया था। यहां बंद का असर नजर आ सकता है क्योंकि राज्य के 3400 पेट्रोल पंप बंद रहेंगे। बाजार बंद रहेंगे या नहीं, इस पर संगठनों के बीच सोमवार रात तक एक राय नहीं बन पाई थी। वहीं, बिहार में महागठबंधन के दलों ने बड़े पैमाने पर बंद को सपोर्ट करने की तैयारी कर ली है।

देश के 17 राज्यों में भाजपा और उसके सहयोगियों की सरकार है। छह केंद्र शासित प्रदेश भी हैं, जिनमें से जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू है। इस तरह इन 23 राज्यों में देश की 50% आबादी रहती है। यहां 6.25 करोड़ किसान परिवार हैं।

मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार चाहती है कि मंडियां चलती रहें
मध्यप्रदेश में बंद का ज्यादा असर देखने को नहीं मिलेगा। शिवराज सरकार चाहती है कि प्रदेश की सभी 255 मंडियां चलती रहें। मध्यप्रदेश में सोमवार शाम तक किसी भी व्यापारी संगठन ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया था। उधर, कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के प्रवक्ता विवेक साहू ने बताया कि मध्यप्रदेश में भारत बंद का असर नहीं होगा। हालांकि, कांग्रेस बड़े पैमाने पर प्रदर्शन की तैयारी में है।

हरियाणा के 3400 पेट्रोल पंप दोपहर 3 बजे तक बंद रहेंगे
हरियाणा में किसानों का पेट्रोलियम डीलर वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान संजीव चौधरी ने कहा कि किसानों के समर्थन में प्रदेश के 3400 से ज्यादा पेट्रोल पंप सुबह 8 से दोपहर 3 बजे तक बंद रहेंगे। सब्जी मंडियों में भी बंद का ऐलान किया गया है। रोडवेज निगम के अधिकारियों का कहना है कि यात्री मिलेंगे तो बसें चलाएंगे। राज्य में मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। बाजारों के खुलने या बंद रहने पर देर शाम तक कारोबारी संगठनों के बीच एक राय नहीं बन सकी।

बिहार में महागठबंधन का बंद को समर्थन
बिहार में लेफ्ट पार्टियों के साथ ही राजद और कांग्रेस के कार्यकर्ता भी भारत बंद के समर्थन में सड़कों पर उतरेंगे। इनकी सड़क और रेल मार्ग को रोकने की तैयारी है। इसके लिए सोमवार को लेफ्ट पार्टियों और कांग्रेस ने किसान संगठनों के साथ पटना में बैठक भी की। भाकपा माले की रणनीति है कि पहले नेशनल हाईवे बंद किया जाए। इसलिए पटना आने वाले रास्तों पर असर पड़ सकता है। NH 30 पटना-बख्तियारपुर, NH30A फतुहा से नालंदा के साथ ही पटना- गया और पटना-बख्तियारपुर स्टेट हाईवे भी प्रभावित हो सकते हैं।

उत्तर प्रदेश में भी व्यापारी संगठन बंद के समर्थन में नहीं
भाजपा शासित सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में किसान संगठनों के भारत बंद का थोड़ा असर देखने को मिल सकता है। राजधानी लखनऊ में किसान संगठन के पदाधिकारी जगह-जगह प्रदर्शन करेंगे। सपा ने भी किसानों का समर्थन देने का ऐलान किया है। हालांकि, राज्य में किसी भी व्यापारी संगठन ने भारत बंद का समर्थन करने का ऐलान नहीं किया है। शहर में सभी मार्केट खुलेंगे। ट्रांसपोर्ट के सभी साधन भी चलते रहेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से कहा है कि राज्य में आम लोगों को दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

गुजरात में असर के आसार नहीं
भारत बंद के मद्देनजर गुजरात सरकार ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। अहमदाबाद में पुलिस कमिश्नर ने एक जगह पर चार या इससे ज्यादा लोगों के इकट्‌ठा होने पर रोक लगा दी है। गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात के किसान और APMC मंडियां भारत बंद के सपोर्ट में नहीं हैं। हमारे राज्य में बंद सफल नहीं रहेगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Petrol pumps will remain closed in the BJP-ruled states in India, Haryana; Bihar may also be affected; Closure in other states will be ineffective


from Dainik Bhaskar /national/news/petrol-pumps-will-remain-closed-in-the-bjp-ruled-states-in-india-haryana-bihar-may-also-be-affected-closure-in-other-states-will-be-ineffective-127991512.html
https://ift.tt/2Lhg2XH
Previous Post Next Post