देश में इस बार नया साल मनाना आसान नहीं होगा। न्यू ईयर ग्रैंड सेलिब्रेशन के लिए प्रसिद्ध मुंबई, बेंगलुरू, मैसूर और पुड्डुचेरी में नए साल की वो तस्वीर नहीं दिखेगी, जो यहां के जश्न के लिए मशहूर है। सबसे कम पाबंदियां गोवा में हैं, लेकिन यहां की महंगाई के बीच नया साल मनाना आसान नहीं होगा।

जानिए, देशभर के वो शहर, जो नए साल के जश्न के लिए मशहूर हैं, वहां के हालात कैसे हैं और नए साल का सेलिब्रेशन कैसे होगा, पूरी रिपोर्ट...

मैसूर : आतिशबाजी से रोशन होने वाला मैसूर पैलेस इस साल सूना रहेगा

मैसूर पैलेस को देखने हर साल करीब 60 लाख पर्यटक पहुंचते हैं। विंटर फेस्टिवल से जगमगाने वाला यह पैलेस इस साल शांत है। नाइट कर्फ्यू के कारण यहां न्यू ईयर सेलिब्रेशन नहीं होगा।
  • कर्नाटक के मैसूर पैलेस में हर साल 24 दिसंबर से ही विंटर फेस्टिवल का आगाज होता है। आतिशबाजी देखने के लिए बड़ी संख्या में सैलानी यहां आते हैं, लेकिन इस साल प्रशासन ने विंटर फेस्टिवल पर पूरी तरह रोक लगा दी है। मैसूर होटल ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सी. नारायण गोड़ा के मुताबिक, मैसूर का कोई भी बड़ा होटल इस साल न्यू ईयर पार्टी की तैयारी नहीं कर रहा है। कर्नाटक में 23 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू लागू है, जो 2 जनवरी तक जारी रहेगा।

गोवा: यहां सख्त पाबंदियां नहीं, न्यू ईयर पर 10 ग्रैंड पार्टियों की प्लानिंग

गोवा में न्यू ईयर पार्टी का नजारा ऐसा होता है। यहां हर साल 31 दिसंबर को 25 से 30 ग्रैंड पार्टी ऑर्गनाइज की जाती हैं। इस साल यहां 10 बड़ी पार्टी ही ऑर्गनाइज की जाएंगी। - फाइल फोटो
  • नया साल गोवा में सेलिब्रेट कर सकते हैं, क्योंकि यहां प्रशासन की तरफ से सख्त पाबंदियां नहीं हैं। गोवा में 31 दिसंबर को 10 बड़ी पार्टीज शेड्यूल हैं। हर साल यहां 30 बड़ी पार्टीज ऑर्गनाइज की जाती हैं। महामारी में बिना किसी बंदिश के न्यू ईयर सेलिब्रेट करने के लिए गोवा इस साल बेहतर डेस्टिनेशन है।
  • पुणे की ट्रैवल एजेंसी श्री विनायक हॉलीडेज के ओनर संतोष गुप्ता के मुताबिक, नए साल के लिए गोवा, महाबलेश्वर और लोनावला के लिए जाने वाली कैब में 40% तक बढ़ोतरी हुई है। ट्रैवल कंपनी गो आईबीबो का हालिया सर्वे कहता है कि 60% भारतीय बीच या हिल्स वाले टूरिस्ट स्पॉट पर नया साल मनाना चाहते हैं।

शिमला-मनाली: बिना पार्टी सेलिब्रेट करना होगा न्यू ईयर, नाइट कर्फ्यू में एक घंटे की ढील

यह शिमला की माल रोड है। यहां हर साल क्रिसमस और न्यू ईयर के सेलिब्रेशन का भव्य नजारा दिखता है, लेकिन इस साल नाइट कर्फ्यू के कारण सन्नाटा रहेगा।
  • हिमाचल प्रदेश के शिमला, मंडी, कांगड़ा और कुल्लू में 5 जनवरी तक के लिए नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू की टाइमिंग थी, लेकिन क्रिसमस से पहले इसमें एक घंटे की छूट दी गई है। अब कर्फ्यू रात 10 बजे से लगेगा। यहां हर तरह की पब्लिक गैदरिंग पर रोक है। अगर आप न्यू ईयर सेलिब्रेट करने शिमला या मनाली जा रहे हैं तो पहाड़ों के बीच सुकून के पल तो बिता सकते हैं, पर न्यू ईयर पार्टी का जश्न नहीं मना पाएंगे।

मुम्बई: मायानगरी में नाइट कर्फ्यू के बीच होगी नए साल की शुरुआत

मुम्बई में 5 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। गेटवे ऑफ इंडिया के आसपास होने वाले इवेंट भी इस साल नहीं हो रहे हैं।
  • मुम्बई में नए साल की शुरुआत नाइट कर्फ्यू के बीच होगी। बृहन्मुंबई महानगर पालिका, यानी BMC ने यहां रात 11 से सुबह 6 बजे तक रेस्टोरेंट, होटल, बार और फूड कोर्ट बंद रखने के आदेश दिए हैं। ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन सामने आने के बाद 21 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू लगाया गया, जो 5 जनवरी तक लगा रहेगा। रात 8 बजे के पहले एक जगह पर अधिकतम 50 लोग इकट्ठा हो सकते हैं।
  • पुणे में भी नए साल की ग्रैंड पार्टीज न के बराबर देखने को मिलेंगी। पुणे के एसोसिएशन ऑफ क्लब्स के अध्यक्ष ने बताया कि 31 दिसंबर को सभी क्लब संचालक सोशल डिस्टेंसिंग को देखते हुए बड़ी पार्टी ऑर्गनाइज करने से बच रहे हैं।

बेंगलुरु: न्यू ईयर के जश्न पर बैन, रात में घर से बाहर भी नहीं निकल सकेंगे

यह बेंगलुरु की चर्च स्ट्रीट है। हर साल 31 दिसंबर की रात यहां लोगों की भीड़ होती है। नाइट कर्फ्यू के कारण इस साल यहां न्यू ईयर सेलिब्रेशन नहीं हो सकेगा। - फाइल फोटो
  • एमजी रोड, ब्रिगेड रोड और चर्च स्ट्रीट पर होने वाला सेलिब्रेशन बेंगलुरु के न्यू ईयर की पहचान है। इस साल कोरोनाकाल में ये तीनों जगहें सूनी रहेंगी। बेंगलुरु महानगर पालिका के कमिश्नर मंजूनाथ प्रसाद ने बताया कि इस साल पब और रेस्टोरेंट में होने वाले सभी न्यू ईयर सेलिब्रेशन पूरी तरह बैन रहेगा। कर्नाटक सरकार भी राज्य में क्रिसमस और न्यू ईयर पार्टीज पर रोक लगाने की गाइडलाइन जारी कर चुकी है। यहां 23 दिसंबर से 2 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। सिर्फ जरूरी प्रोग्राम हो सकेंगे, जिसमें कोविड गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है।

पुड्डुचेरी: नियमों में बंधी रहेंगी पार्टियां, खुली जगहों पर ही मनेगा जश्न

सिर्फ नया साल ही नहीं, जनवरी में होने वाले दूसरे फेस्टिवल्स भी पाबंदियों के बीच मनेंगे। न्यू पार्टीज बीच के किनारे खुले में ऑर्गनाइज की जाएंगी। इस दौरान मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा।
  • पुड्डुचेरी के बीच रोड पर होने वाली न्यू ईयर पार्टियां लोकल्स के साथ ही बड़ी संख्या में सैलानियों का ध्यान भी खींचती हैं। बीच पार्टियों के लिए प्रशासन ने नई गाइडलाइन लागू की है। सभी बीच पार्टीज के ऑर्गेनाइजर्स को निर्देश दिए गए हैं कि जश्न में शामिल होने वाले गेस्ट्स की संख्या कम से कम रखें। पार्टियां खुली जगहों पर ही ऑर्गेनाइज की जाएंगी।
  • यहां ओपन पार्टी में भी मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। मुख्यमंत्री वी. नारायणस्वामी का कहना है कि सिर्फ नया साल ही नहीं, सेनी पेयरची और पोंगल जैसे त्योहार को भी सख्त पाबंदियों के बीच मनाया जाएगा।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Goa Mumbai; New Year 2020 Celebrations India News Photo Update | Celebrations in Goa Shimla Mumbai To Bengaluru Mysore Palace


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3pCPHSz
https://ift.tt/3rxfQEe
Previous Post Next Post