न्यूजीलैंड ने दूसरे टेस्ट में पाकिस्तान को पारी और 176 रन से हराया। टीम ने दो टेस्ट की सीरीज में 2-0 से क्लीन स्वीप कर लिया। टीम दुनिया की नंबर-1 टेस्ट टीम भी बन गई है। न्यूजीलैंड अपने 90 साल के इतिहास में पहली बार टॉप पर पहुंचा है। इसके लिए खिलाड़ियों के अलावा बोर्ड की भी सराहना हो रही है। एेसा इसलिए क्योंकि दुनिया के अन्य क्रिकेट बोर्ड के मुकाबले कम रेवेन्यू के बाद भी टीम इस मुकाम तक पहुंची है। न्यूजीलैंड बोर्ड का सालाना रेवेन्यू लगभग 270 करोड़ रु. है, जो बीसीसीआई से 14 गुना कम है। बीसीसीआई का रेवेन्यू 3730 करोड़ रु. है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया बोर्ड का रेवेन्यू 2290 करोड़ है। न्यूजीलैंड बोर्ड का रेवेन्यू इंग्लैंड की काउंटी टीम सरे से भी कम है। सरे का रेवेन्यू 315 करोड़ सालाना है।

बोर्ड और खिलाड़ियों का रिश्ता अच्छा, विदेशी लीग में खेलने की अनुमति

खिलाड़ी और बोर्ड के बीच का रिश्ता अच्छा है। खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने से नहीं रोका जाता है, जिससे वे कमाई कर लेते हैं। ए टीम को बेहतर बनाने के लिए बोर्ड ने घरेलू फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट को 2018 में 10 से 8 राउंड का कर दिया। इसका असर भी दिख रहा है और काइल जेमिसन जैसे खिलाड़ी मिले हैं। वे छह टेस्ट में 4 बार पांच विकेट लेने का कारनामा कर चुके हैं। क्रिकेट आयरलैंड भी न्यूजीलैंड के मॉडल को अपनाने की तैयारी में है। दूसरी ओर, इस बार भारत में फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट लगभग स्थगित है। बोर्ड ने कमाई के लिए आईपीएल का आयोजन यूएई में कराया था।

ICC के सभी बड़े इवेंट्स की मेजबानी बिग थ्री के पास ही है

बिग थ्री यानी भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड। 2016 से 2023 के बीच बड़े आईसीसी इवेंट्स की मेजबानी इनके पास है। सबसे अच्छा इंफ्रास्ट्रक्चर भी इन्हीं का है। युवा खिलाड़ियों को पहचानने और उन्हें तैयार करने में काफी खर्च होता है। लेकिन न्यूजीलैंड ने सीमित इंफ्रास्ट्रक्चर में ऐसा करके दिखा दिया है। आईपीएल के कोच को कमाई में भी बिग-3 के कोच ही टक्कर देते हैं।

न्यूजीलैंड लगातार दो वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में भी पहुंचा है

न्यूजीलैंड के अच्छे प्रदर्शन को अपवाद नहीं माना जा सकता है। टीम लगातार दो बार वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंची है। पाक के खिलाफ जीत उनकी घर में लगातार 8वीं सीरीज जीत है। इस दौरान उन्होंने 11 मैच जीते हैंै। 2009 के बाद पाक टीम को यूएई में सिर्फ एक नॉन एशियाई टीम से टेस्ट सीरीज में हार मिली है। उन्हें न्यूजीलैंड ने ही 2018 में मात दी थी।न्यूजीलैंड टीम ने घर में लगातार आठवीं सीरीज जीती है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
न्यूजीलैंड ने दाे टेस्ट मैचाें की सीरीज को 2-0 से हराया। इसके साथ ही वह पहली बार ICC वर्ल्ड टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर वन पर पहुंच गई है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bgA53i
Previous Post Next Post