भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर सीरीज खेली जा रही है। चार मैचों की सीरीज अभी 1-1 की बराबरी पर है और तीसरा टेस्ट मैच कल से सिडनी में खेला जाना है। मैच से दो दिन पहले ओपनर और विकेटकीपर लोकेश राहुल चोटिल होकर सीरीज से बाहर हो गए। मोहम्मद शमी और उमेश यादव के बाद सीरीज से बाहर होने वाले राहुल तीसरे भारतीय खिलाड़ी हैं।

मैच से पहले टीम इंडिया के सामने कई मुश्किल सवाल हैं। जिन पांच खिलाड़ियों पर कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप हैं उनका क्या होगा? एक साल बाद वापसी कर रहे रोहित शर्मा किस नंबर पर खेलेंगे? चोट लगने के कारण टीम से बाहर हुए उमेश यादव की जगह कौन लेगा? क्या राहुल की जगह कोई नया बल्लेबाज टीम के साथ जुड़ेगा? अगर कोई और बल्लेबाज चोटिल हो जाता है तो टीम इंडिया सीरीज के बाकी मैच कैसे खेलेगी? चौथा टेस्ट ब्रिस्बेन में होगा या नहीं इसे लेकर भी सवाल है। आइये जानते हैं इन सभी सवालों के जवाब…

जिन पांच खिलाड़ियों पर कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप हैं उनका क्या होगा?

मेलबर्न से सिडनी रवाना होने से पहले दोनों टीमों के सभी खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है। सोमवार को टीम इंडिया सिडनी पहुंच गई। माना जा रहा है कि तीसरे टेस्ट के लिए टीम इंडिया के पास टीम सिलेक्शन के लिए पूरा स्क्वॉड होगा। यानी, जिन पांच खिलाड़ियों (रोहित शर्मा, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, नवदीप सैनी और ऋषभ पंत) पर कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने का आरोप है, वो भी सिलेक्शन के लिए अवेलेबल रहेंगे। मंगलवार को प्रैक्टिस के दौरान इन खिलाड़ियों ने टीम के बाकी साथियों के साथ प्रैक्टिस भी की।

एक साल बाद वापसी कर रहे रोहित शर्मा कहां खेलेंगे?

रोहित शर्मा ने पिछला टेस्ट मैच नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था। तब वो टीम में बतौर ओपनर खेले थे। अब तक 32 टेस्ट खेल चुके रोहित ने सिर्फ पांच टेस्ट बतौर ओपनर खेले हैं। ये पांचों मैच उन्होंने 2019 में भारत में खेले। इसके बाद न्यूजीलैंड में हुई टेस्ट सीरीज से पहले वो चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए थे। मौजूदा सीरीज के पहले दो टेस्ट भी वो चोट के चलते नहीं खेल सके।

बतौर ओपनर रोहित का प्रदर्शन शानदार रहा है। उन्होंने ओपनर के तौर पर खेली छह पारियों में 176, 127, 14, 212, 6 और 21 रन बनाए हैं। उनके टेस्ट करियर का बेस्ट स्कोर 212 रन भी उन्होंने ओपनर के तौर पर साउथ अफ्रीका के खिलाफ बनाया था। इन आंकड़ों के चलते ही टेस्ट में वापस आते ही उन्हें उप-कप्तान बना दिया गया। अगर इन आंकड़ों को देखें, तो रोहित बतौर ओपनर ही टीम में शामिल होंगे। ऐसे में आउट ऑफ फॉर्म चल रहे मयंक अग्रवाल को टीम से बाहर किया जा सकता है।

हालांकि, रोहित शर्मा ने अभी तक विदेश में किसी टेस्ट में ओपनिंग नहीं की है। इस टूर पर उन्हें मैच प्रैक्टिस का मौका भी नहीं मिला है। ऐसे में मैनेजमेंट उन्हें पहले ही मैच में सीधे नई बॉल से स्टार्क, कमिंस और हेजलवुड के खिलाफ उतारने की जगह बीच में बैटिंग करा सकता है।

रोहित मिडिल ऑर्डर में खेले तो किसकी जगह लेंगे?

रोहित अगर बीच में बैटिंग करने उतरते हैं तो टीम मैनेजमेंट 2018-19 के ऑस्ट्रेलिया दौरे वाला फॉर्मूला अपना सकता है। उस दौरे में मेलबर्न के दौरान हनुमा विहारी बतौर ओपनर उतरे थे। जबकि, रोहित ने छह नंबर पर बैटिंग की थी। उस मैच में भी रोहित ने 63 रन की पारी खेली थी। इस दौरे की बात करें, तो हनुमा विहारी ने अब तक बड़ा स्कोर नहीं किया है लेकिन वो काफी ऑर्गनाइज्ड और तकनीकी रूप से काफी अच्छे दिखे हैं। हनुमा विहारी की डिफेंसिव टेक्नीक और प्रेशर हैंडल करने की क्षमता को देखते हुए उन्हें ये रोल मिल सकता है।

एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई विकेट रोहित शर्मा की बैटिंग के अनुकूल हैं। ऐसे में उन्हें गुरुवार को शुरू होने वाले मैच में ओपनर के तौर पर ही खेलना चाहिए। लक्ष्मण ने कहा कि मैं चाहता हूं कि रोहित ओपन करें और शतक बनाएं। वहीं, पूर्व ओपनर आकाश चोपड़ा का भी मानना है कि मयंक अग्रवाल को रोहित शर्मा के लिए जगह बनानी होगी। रोहित बतौर ओपनर ही टीम में शामिल होंगे।

उमेश यादव की जगह कौन लेगा?

सीरीज शुरू होने से पहले इशांत शर्मा, पहले टेस्ट के दौरान शमी और दूसरे टेस्ट के दौरान उमेश चोटिल होकर टीम से बाहर हो चुके हैं। शमी की जगह पिछले मैच में खेले डेब्यूटन मोहम्मद सिराज ने बढ़िया प्रदर्शन किया था। ऐसे में उनका खेलना तय है। शार्दुल ठाकुर को शमी की जगह जबकि टी नटराजन को उमेश की जगह टीम में शामिल किया गया है।

नवदीप सैनी पहले से टीम का हिस्सा हैं। ऐसे में सबसे मजबूत दावा नवदीप का है। अगर टीम मैनेजमेंट फर्स्ट क्लास एक्सपीरियंस को तवज्जो देता है, तो ही शार्दुल को जगह मिल सकती है। शार्दुल थोड़े बहुत रन बैटिंग में भी बना सकते हैं। सिडनी पूरे ऑस्टेलिया में एकमात्र पिच है, जहां स्पिनर्स को सबसे ज्यादा मदद मिलती है। 2018-19 के भारत दौरे में सिडनी में सिर्फ दो स्पिनर खेले थे।

वनडे और टी-20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले टी. नटराजन सफेद बॉल से अपने प्रदर्शन के दम पर रेड बॉल क्रिकेट में भी दावा पेश कर रहे हैं। मैच से दो दिन पहले टी नटराजन ने सफेद जर्सी में अपनी फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की है। इसके बाद उनके भी टीम में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

2018-19 के सिडनी टेस्ट में कुलदीप के साथ रवीन्द्र जडेजा टीम का हिस्सा थे। उस मैच में कुलदीप ने 5 विकेट लिए थे। ऐसे में टीम मैनेजमेंट कुलदीप को खिलाने के बारे में सोच सकता है। लेकिन, अश्विन के फॉर्म को देखते हुए इसकी संभावना लगभग न के बराबर है।

​​​क्या राहुल की जगह कोई नया बल्लेबाज टीम के साथ जुड़ेगा?

कोरोना काल में किसी भी खिलाड़ी को जुड़ने के लिए ऑस्ट्रेलिया जाने के बाद 14 दिन क्वारैंटाइन रहना होगा। जैसे रोहित शर्मा 15 दिसंबर को ही ऑस्ट्रेलिया पहुंच गए थे। लेकिन क्वारैंटाइन रहने के कारण ही वो शुरुआती दो टेस्ट नहीं खेले। अगर राहुल की जगह कोई खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया आता है, तो जब तक वो खेलने के लिए एलिजिबल होगा, तब तक सीरीज खत्म हो चुकी होगी।

और बल्लेबाज चोटिल हुए, तो टीम बाकी मैच कैसे खेलेगी?

मौजूदा टीम में कुल सात बल्लेबाज कप्तान अजिंक्य रहाणे, उप-कप्तान रोहित शर्मा, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा और हनुमा विहारी ही बचे हैं। ऐसे में अगर कोई बल्लेबाज तीसरे टेस्ट के दौरान चोटिल होता है, तो टीम इंडिया के लिए मुश्किल बहुत ज्यादा बढ़ जाएगी।

चौथा टेस्ट ब्रिस्बेन में होगा या नहीं क्या इसे लेकर भी सवाल है?

दरअसल, सिडनी में कड़े कोरोना प्रोटोकॉल फॉलो किए जा रहे हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि सिडनी से ब्रिस्बेन पहुंचने पर टीम को होटल में आइसोलेट किया जा सकता है। टीम इंडिया इसका विरोध दर्ज करा चुकी है। ऐसे में या तो टीम को ब्रिस्बेन आने पर प्रैक्टिस की छूट मिलेगी। या फिर टीम इंडिया चौथा टेस्ट भी सिडनी में ही कराने को कहेगी। ऐसा नहीं होता है, तो चौथा टेस्ट रद्द भी सकता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Rohit Sharma To Indian Players Who Breached Protocol | India (IND) Vs Australia (AUS) Sydney Test Match Test Explainer


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3q5m1y3
https://ift.tt/2XglbSG
Previous Post Next Post